Pages

Friday, February 26, 2010

Salute to Sachin

सचिन को सलाम


प्रजेंट में जीते हैं तेंदुलिया
सुनील गावस्कर ने कहा कि ऐसे कितने बैट्समैन हैं, जिन्होंने 93 इंटरनेशनल सेंचुरी लगाई हैं. किसके पास 14 हजार से ज्यादा वनडे रन हैं और किसने 17 हजार से ज्यादा टेस्ट रन बनाए हैं. किसी ने नहीं. मैं सचमुच उनके सामने झुक कर उसके पैर छूना चाहूंगा. सचिन ने जब से क्रिकेट खेलना शुरू किया है, तब से गावस्कर उनके आइडियल रहे हैं. गावस्कर ने कहा कि सचिन के बारे में सबसे अच्छी बात यह है कि उनका ध्यान हमेशा प्रजेंट पर रहता है. वे हिस्ट्री के बारे में नहीं सोचते.
नहीं रुकेगी सचिन एक्सप्रेस
सईद अनवर ने कहा कि मुझे रिकार्ड टूटने से किसी तरह का गम नहीं है. सचिन निश्चित रूप से इसका हकदार था. अगर तेंदुलकर की फार्म और फिटनेस बरकरार रहती है तो वह टेस्ट में भी ट्रिपल सेंचुरी जड़ सकता है. यह देखकर खुशी होती है कि पिछले 20 साल से वह लगातार खेल रहा है. उसके अंदर रनों की भूख बरकरार है. उसके नाम कितने ही रिकॉर्ड हो चुके हैं, लेकिन वह रुकने का नाम नहीं लेता. मेरे पास उसकी तारीफ के लिए शब्द नहीं है.
याद आ गया वो बच्चा
नासिर हुसैन ने अपने कॉलम में लिखा कि मुझे दो महान प्लेयर्स के बीच तुलना पसंद नहीं, लेकिन तेंदुलकर की इनिंग्स देखने के बाद यह कहना होगा कि वह ऑलटाइम बेस्ट बैट्समैन हैं. मुझे यह कहते हुए भी कतई कनफ्यूजन नहीं कि वह ब्रायन लारा और रिकी पोंटिंग से भी बेहतर हैं. सर विवियन रिच‌र्ड्स, सुनील गावस्कर और एलन बार्डर से भी बेहतर. मैं तो यह कहूंगा कि सर डान ब्रेडमैन से भी बेहतर बैट्समैन. मैं इंडिया में 1989 में नेहरू कप के दौरान तेंदुलकर के खिलाफ खेला था. ग्वालियर में खेलते हुए मुझे तेंदुलकर में वही पुराना बच्चा नजर आया. यही उत्साह और जुनून तेंदुलकर को खास बनाता है.
ये तो क्रिकेट का लक है
क्लार्क के मुताबिक उन्हें कोई हैरानी नहीं है कि तेंदुलकर वनडे क्रिकेट में डबल सेंचुरी जड़ने वाले दुनिया के पहले बैट्समैन बन गए. क्लार्क ने कहा कि उनका रिकार्ड ही इसका गवाह है. वह बेस्ट बैट्समैन हैं जिन्हें मैंने खेलते देखा है. क्लार्क ने कहा कि मैंने उनकी इनिंग्स नहीं देखी, लेकिन आज उसकी हाईलाइट्स जरूर देखूंगा. क्लार्क के अनुसार क्रिकेट की यह खुशकिस्मती है कि उसके पास तेंदुलकर जैसा जीनियस है.

No comments:

Post a Comment