Pages

Friday, February 26, 2010

रंगबिरंगा बाजार

होली के बाजार से मार्केट रंगबिरंगा हो गया है. चारों तरफ रंग, गुलाल और पिचकारियों की दुकानें सज गई हैं. इस बार प्लास्टिक की कुछ खास पिचकारियां आई हैं, जो बच्चों को लुभा रही हैं. होली में पहने जाने वाले कैप्स भी मार्केट में हैं. हर्बल कलर्स की ज्यादा डिमांड दिख रही है.
Gun वाली पिचकारी की ज्यादा sale
होली में कुछ ही दिन रह गए हैं. इस कारण रंग और पिचकारियों के मार्केट में रौनक बढ़ गई है. मॉर्केट में सबसे ज्यादा गन वाली पिचकारी की डिमांड है. लिली एंड जूली शॉप के ओनर खालिद का कहना है कि गन वाली पिचकारियों को ज्यादा सेल हो रही है. इस बार टैंक, स्पाइडरमैन और एलिफैंट शेप वाली पिचकारी भी मार्केट में है. यह बच्चों को काफी लुभा रही है.
अपना red और green
गुमटी स्थित द गेम शॉप में भी सबसे ज्यादा गन वाली पिचकारी ही है. लोग स्प्रे भी परचेज कर रहे हैं. मॉडल लाइट हाउस के ओनर काशिफ बताते हैं कि रेड व ग्रीन कलर को खासा पसंद किया जा रहा है. इस बार लोग होली हर्बल कलर्स के साथ ही मनाना चाहते हैं. इसकी सेल ज्यादा हो रही है. साथ ही चेहरे पर लगाने वाले मास्क व कैप्स की दुकानों भी सज गई हैं. मार्केट में 700 रुपए तक की पिचकारी मौजूद है.

Holi Celebrations Regional Wise



Holi in Maharashtra
Holi is a colorful festival celebrated during the spring season (March), in India. It is the time, when people let their hair down and enjoy the time with fun and fervor. As the festival falls on the transition stage from chilly winters to summers, it brings in a degree of warmth and fills the air with festivity. Few days prior to the festival, people indulge in the merrymaking.

Holi in Mathura Vrindavan
Holi is one of the most important festivals in India. It is celebrated with immense zeal and fervor throughout the length and breadth of the country. Though the celebrations take place everywhere in the country with extreme enthusiasm and zeal, the celebrations of various places have regional differences. The Holi in Kolkata is different from that of Orissa; the Holi in Bihar is different from that of Haryana. In West India, the Holi is entirely different from how it is celebrated in North Eastern state of Manipur.

Lathmaar Holi
Holi is one of the most ancient festivals in India. It was originally named as 'Holika’. It is celebrated in most of the parts of the country. The celebrations of Holi are full of immense zeal and fervor. It is also one of the most popular Indian festivals abroad. The celebrations of Holi differ from region to region, as if the Holi in Mathura and Vridavana, differs from those celebrated in Manipur, West Bengal and Orissa.

No comments:

Post a Comment