कैसे करें पढ़ाई में कंसन्ट्रेट


राहुल बेहद होशियार स्टूडेंट है। लेकिन लगातार अव्वल रहने वाले राहुल का रिजल्ट नवीं क्लास में आकर खराब हो गया है। इससे न केवल राहुल, बल्कि उसके पैरेंट्स, टीचर और उसके दोस्तों को भी काफी हैरानी हुई है। दरअसल, उन सभी को समझ में ही नहीं आ रहा कि आखिर अपनी कक्षा में सबसे होशियार राहुल के साथ ऐसा क्यों हुआ? सच तो यह है कि आगे राहुल के जीवन का सबसे महत्वपूर्ण समय आने वाला है, यानी उसका बोर्ड एग्जाम नजदीक है। ऐसी स्थिति में खराब रिजल्ट होने से सबका परेशान होना स्वाभाविक ही है।

बहरहाल, क्या अब तक आप यह अंदाजा लगा सके हैं कि राहुल के साथ ऐसी परेशानी क्यों हुई? दरअसल, वह जब भी पढाई करने बैठता है, उसके मन में कई तरह के सवाल उठने लगते हैं। कभी वह स्कूल से जुडी बातों के बारे में सोचने लगता है, तो कभी अचानक उसे किसी नए वीडियो-गेम का खयाल आ जाता है। इस तरह राहुल न चाहते हुए भी पढाई में कंसन्ट्रेट नहीं कर पाता। यही वजह है कि इस बार उसका रिजल्ट खराब हुआ है। वैसे, यह परेशानी राहुल के साथ ही नहीं, बल्कि राहुल के कई साथियों यानी आपमें से ज्यादातर बच्चों के साथ भी होती रहती है।

क्यों होता है कंसन्ट्रेशन-ब्रेक

दोस्तो, कहते हैं कि मन बेहद चंचल होता है। आपने भी यह जरूर महसूस किया होगा कि मन में एक साथ कई तरह की बातें तेजी से आती-जाती रहती हैं। ऐसे में किसी एक चीज पर एकाग्र (कंसन्ट्रेट) कर पाना सचमुच आसान नहीं होता! और आप चूंकि अभी स्कूल में हैं, इसलिए इस समय आपके मन में ढेरों सवाल, खास तौर पर स्टडी के समय आते ही होंगे। उदाहरण के लिए स्कूल में किसने और क्यों अमुक बातें कहीं, मैडम ने आपको अमुक मसले पर क्यों डांट दिया, अथवा आपके दोस्त ने जो नया वीडियो गेम लिया, वह कितना शानदार है, कल जो आपने टीवी में देखा था, उसमें क्या खास था? है न!

आपकी उम्र का भी है हाथ

एजुकेशनिस्ट व मैजिकल मैथॅड प्राइवेट लिमिटेड, नई दिल्ली के डायरेक्टर प्रदीप कुमार पढाई में कंसनट्रेट न कर पाने का एक कारण आपकी उम्र को भी मानते हैं। दरअसल, उनका यह कहना है कि सात से चौदह साल के एज-ग्रुप के बच्चों के माइंड एक इम्प्रेसनेबॅल माइंड होता है। यानी ऐसे बच्चों पर किसी भी चीज का जल्दी और तीव्र असर पडता है। यही वजह है कि उन्हें स्टडी के समय कंसन्ट्रेट करने में परेशानी भी होती है। वैसे, कंसन्ट्रेशन-ब्रेक होने के और भी कई कारण होते हैं। जैसे, स्टडी का गलत तरीका, दिनचर्या का सही नहीं होना, डाइट का बैलेंस्ड न होना, आउटडोर ऐक्टिविटीज या खेल-कूद में हिस्सा न लेना आदि।

विल पावर स्ट्रांग हो

महान वैज्ञानिक सर आइजेक न्यूटन ने एक बार कहा था कि यदि कोई मुझसे मेरी कामयाबी का राज पूछता है, तो उसे मैं एक ही सलाह देता हूं कि पहले अपनी एकाग्रता को मजबूत करो। न्यूटन ने ऐसा इसलिए कहा था, क्योंकि उनकी एकाग्रता गजब की थी, जिसका परिणाम आज दुनिया के सामने है। अब यदि न्यूटन की एकाग्रता इतनी अच्छी हो सकती है, तो आपकी क्यों नहीं! लेकिन ऐसा तभी संभव होगा, जब आपका विल पॉवर स्ट्रांग हो। इस बारे में विशेषज्ञ भी यही मानते हैं कि कंसन्ट्रेशन बढाने में आपकी इच्छाशक्ति यानी विल पावर का जबर्दस्त रोल होता है। इसलिए कंसन्ट्रेशन इम्पू्रव करने के जो भी तरीके हैं, उन सबका इस्तेमाल उसी कंडीशन में सफल हो सकता है, जब आपका विल पॉवर बेहद स्ट्रांग हो!

क्या करें

डिस्ट्रॅक्टिव आइडियाज को रोकने में सफल होने पर खुद को रिवार्ड जरूर दें।

हेल्दी फूड्स यानी, कार्बोहाइड्रेट्स, प्रोटीन्स और फाइब्रस युक्त खाद्य-पदार्थो का ही सेवन करें। जैसे- चपाती, मिल्क, फु्रट जूस आदि।

साइक्लिंग, स्विमिंग या जॉगिंग करने से आपका विल पॉवर बढेगा और कंसन्ट्रेशन-लेवॅल में भी इजाफा होगा।

रुटीन फॉलो करें और इसे मेंटेन भी रखें।

पूरी नींद लें।

क्या न करें

एक विषय पढते समय दूसरे विषयों के बारे में न सोचें।

टीवी कम से कम देखें।

पढाई करते समय डिस्ट्रॅक्टिव आइडियाज यानी कुछ खाने, फ्रेंड्स को फोन करने, टीवी देखने आदि से खुद को रोकें।

काउंसलर की टिप्स

जंप-एन के डायरेक्टर और जाने-माने करियर काउंसलर जितिन चावला कंसन्ट्रेशन-लेवल इंप्रूव करने के कुछ खास टिप्स बताते हैं..

रात को एकदम से सोने न जाएं, बल्कि बेड पर कुछ समय तक रिलैक्श होकर माइंड से सभी विचारों को निकालने की कोशिश करें। ऐसा करने से आपको अच्छी नींद आएगी और कंसन्ट्रेशन-लेवल बढेगा।

सुबह उठने के बाद तुरंत काम पर न लग जाएं, बल्कि बेड पर कुछ देर तक के लिए बैठे रहें।

स्टडी करते समय बुक में ही मार्क न करें, बल्कि इसके स्थान पर कॉनेल नोट मेकिंग मेथॅड को फौलो करें। इसके लिए आपको ए-फोर साइज के एक पेपर में दाईं तरफ कुछ खाली जगह छोड दें। हर पैराग्राफ के सेंट्रल आइडिया को यहां लिखें और एक बार पढ लेने के बाद सेंट्रल आइडिया की मदद से ही किसी भी टॉपिक को दोहराएं।

सीमा झा

स्टडी करते समय अचानक दूसरी बातों की तरफ ध्यान जाने से आपकी स्टडी, आपका रिजल्ट और अंतत: आपके भविष्य पर भी बुरा प्रभाव पड़ता है। क्यों होता है आपका कंसन्ट्रेशन ब्रेक और कैसे करें पढ़ाई में कंसन्ट्रेट?
कैसे करें पढ़ाई में कंसन्ट्रेट कैसे करें पढ़ाई में कंसन्ट्रेट Reviewed by Brajmohan Saini on 6:23 AM Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.