115 करोड़ के 'प्रेशर' से घरों में आएगा पानी

अमृत योजना और स्मार्ट सिटी योजना में तैयार किया गया ड्रिंकिंग वॉटर का प्लान

- 114.94 करोड़ रुपए किए गए स्वीकृत, साउथ सिटी के लिए अलग से योजना


शहर में पानी के लो प्रेशर से लाखों की आबादी परेशान है। जेएनएनयूआरएम योजना के तहत पेयजल व्यवस्था को सुधारने के लिए अब तक 8म्9 करोड़ रुपए खर्च हो चुके हैं, लेकिन कानपुराइट्स को अभी तक लो प्रेशर से आ रहे पानी की समस्या से निजात नहीं मिल सकी है। अब केंद्र और राज्य सरकार ने इसके समाधान के लिए नया प्लान तैयार किया है। अमृत और स्मार्ट सिटी योजना के तहत शहर में पानी की सप्लाई का इंतजाम ही बदल दिया जाएगा, जिसमें लो प्रेशर पानी की समस्या भी खत्म हो जाएगी।

क्क्ब्.9ब् करोड़ हुए स्वीकृत

अमृत और स्मार्ट सिटी योजना के तहत 'कानपुर पेयजल पुर्नगठन योजना' में अगस्त- ख्0क्7 की रिपोर्ट के मुताबिक जलापूर्ति के लिए क्क्ब्.9ब् करोड़ रुपए स्वीकृत किए गए हैं। जिसमें केंद्र से म्.8ख् करोड़ और राज्य से 7भ् करोड़ रुपए रिलीज कर दिए गए हैं। साथ ही पूरे कार्य का ख् परसेंट कार्य पूरा भी कर लिया गया है। इन पैसों से ओवरहेड टैंक की मेंटीनेंस, इंटरकनेक्शन, सेग्रिगेशन, एक्सटेंशन, लीक डिटेक्शन और रेन वॉटर हार्वेस्टिंग के कार्य किए जाने हैं.

लो प्रेशर की समस्या होगी खत्म

डि्रंकिंग वॉटर लाइन के लीकेज की प्रॉब्लम लगभग शहर की हर गली में है। पाइन लाइन फटने, लीकेज होने का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। इसकी वजह से गर्मी में लोगों को जबरदस्त ड्रिंकिंग वाटर क्राइसिस से जूझना पड़ता है। नई योजना के तहत इन ओवरहेड टैंक्स को नए सिस्टम से इंटरकनेक्ट करने की तैयारी की जा रही है। इसके साथ निर्धारित किए गए मोहल्लों के बाद लाइनों को सेग्रीगेशन भी किया जाएगा। इससे लाइनों में आ रहे लो प्रेशर की समस्या खत्म हो जाएगी। इसके अलावा जर्जर हो चुकी वॉटर लाइनों को भी बदला जाएगा।
- - - - - - - - - - - - - - - -
इन एरियाज में पहले होगा कार्य

इस योजना के फ‌र्स्ट फेज में ख्ब्.क्9 करोड़ से पुराने क्लियर वाटर रिजरवॉयर, पम्प हाउस के रेनोवेशन के लिए फिलहाल जलनिगम ने नवाबगंज, विष्णुपुरी, बालनिकुंज पार्क आर्य नगर, स्वरूपनगर, गीता नगर काकादेव, शास्त्री नगर के दो, फजलगंज, दर्शनपुरवा आदि जोनल पम्पिंग स्टेशन व ओवरहेड टैंक के एरिया को चुना है। जल निगम के सुपरिटेंडेंट इंजीनियर एके जिन्दल ने बताया कि जेएनएनयूआरएम प्रोजेक्ट्स में पहले से इन एरिया में स्थित क्लियर वाटर रिजरवॉयर(सीडब्ल्यूआर), वाटर टैंक बने हुए हैं। इनका मेंटेनेंस किया जाएगा। लीकेज दूर किया जाएगा। इन्हें नई बिछाई गई फीडरमेन लाइनों से भी जोड़ा जाएगा। इसके साथ ही पाइप लाइनों का सेग्रीगेशन भी किया जाएगा, जिससे कि लोगों को प्रेशर से पानी मिल सके.
- - - - - - - - - - - - - - - - - - -
इन एरियाज में भी होना है कार्य

इस योजना को दो भागों में बांटा गया है। कानपुर पेयजल पुर्नगठन योजना फॉर ईस्ट सर्विस डिस्ट्रिक्ट और साउथ सर्विस डिस्ट्रिक्ट। इसके तहत पूरे कानपुर को शामिल किया जाएगा। जाजमऊ, फूलबाग, निराला नगर, साकेत नगर, अजितगंज, बेगमपुरवा, साइट नं.- क् कॉलोनी, किदवई नगर, एक्सप्रेस रोड, कोपरगंज, दालमंडी, कलक्टरगंज, धनकुट्टी, के और वाई- ब्लॉक किदवई नगर सहित अन्य इलाकों में यह कार्य होने हैं।
- - - - - - - - - - - - - - - - - -
शहर में पानी की सप्लाई की स्थिति

शहर की कुल आबादी- - - - ब्भ्,ख्ब्,फ्ख्ब्
ट्यूबवेल की संख्या- - - भ्0
जोनल पंपिंग स्टेशन की संख्या- - फ्8
हैंडपंप की संख्या- - - क्क्,889
- - - - - - - - - - - - - - - - -
योजना एक नजर में

- क्क्ब्.9ब् करोड़ है पूरी योजना की लागत.
- म्.8ख् करोड़ रुपए केंद्र से इस योजना के लिए मिले.
- 7.भ्0 करोड़ रुपए राज्य से इस योजना के लिए मिले.
- क्.भ्म् करोड़ रुपए कार्यो पर खर्च किया जा चुका है।
115 करोड़ के 'प्रेशर' से घरों में आएगा पानी 115 करोड़ के 'प्रेशर' से घरों में आएगा पानी Reviewed by Brajmohan Saini on 2:03 AM Rating: 5

No comments:

Comment Me ;)

Powered by Blogger.