Pages

Saturday, April 23, 2011

guinness world records सुधांशु सिंघल

सुधांशु सिंघल  वरुण गोयल का स्वागत किया
सुधांशु की दिनचर्या
MEERUT : सुधांशु अपने तेज दिमाग की कोई खास वजह नहीं मानते हैं. वो भी एक आम आदमी की तरह अपनी रोज की दिनचर्या में जीते हैं. सुधांशु बताते हैं कि संतुलित खाना ही शरीर को तंदरुस्त रखता है. अगर शरीर स्वस्थ है तो दिमाग अपने आप तंदरुस्त हो जाएगा. मैं सुबह उठकर 15 मिनट प्राणायाम और मेडीटेशन करता हूं. इसके बाद नॉर्मली नाश्ता लेकर कॉलेज निकल जाता हूं. शाम को भी हलका खाना खाता हूं. देर रात तक इंटरनेट यूज करने की वजह से दो बजे तक सो पाता हूं. मैं तो कहता हूं हर इंसान को नेट यूज करना चाहिए. नेट ही ऐसा माध्यम है जिससे व्यक्ति हर तरह की जानकारी प्राप्त कर सकता है. नेट के जरिए ही मुझे इस शो में जाने का मौका मिला.
कंप्यूटर से भी तेज सुधांशु

i-next reporter
MEERUT (22 April):
मेरठ के सुधांशु ने इतिहास रच दिया है. सुधांशु ने अपनी अद्भुत मेमोरी (याद्दाश्त) से दुनिया में न सिर्फ मेरठ का सिर गर्व से ऊंचा कर दिया, बल्कि गिनीज बुक ऑफ व‌र्ल्ड रिकॉर्ड में भी अपना नाम दर्ज करा दिया.
Longest se,1,1uence
कलर्स टीवी पर चल रहे शो में गिनीज बुक ऑफ व‌र्ल्ड रिकॉर्ड अब तोड़ेगा इंडिया में सुधांशु ने लॉन्गेस्ट सिक्वेंस ऑफ मेमोराइज्ड इन वन सेकेंड का रिकार्ड बनाया. जिसमें सुधांशु को बीस जूते-चप्पल एक क्रम में रखकर एक मिनट के लिए दिखाए गए. फिर जूते-चप्पल को आपस में मिलाकर सुधांशु को दे दिया गया. अब सुधांशु को रिकॉर्ड बनाने के लिए 15 मिनट में कम से कम 15 जूते-चप्पलों को ंउसी क्रम में रखना था. सुधांशु ने 17 जूते-चप्पलों को क्रम में लगाकर गिनीज बुक ऑफ व‌र्ल्ड रिकॉर्ड में अपना और देश का नाम दर्ज करा लिया.

No comments:

Post a Comment