Pages

Tuesday, March 30, 2010

Ttreatment in Train

ट्रेन में सफर के दौरान अगर तबीयत बिगड़ जाए तो ऐसी स्थिति में पैसेंजर्स को परेशान होने की जरूरत नहीं होगी. कारण यह है कि सफर के दौरान किसी भी पैसेंजर का स्वास्थ्य खराब होने की दशा में रेलवे पूरा ख्याल रखेगी. रेलवे ने कुछ ऐसी ही व्यवस्था लम्बी दूरी की ट्रेनों में करने की तैयारी की है.
तैनात होंगे डॉक्टर्स
सफर के दौरान ही पैसेंजर्स को ट्रीटमेंट उपलब्ध कराने के मद्देनजर रेलवे डॉक्टर्स की ड्यूटी ट्रेन में लगाई जाएगी. इतना ही नहीं पैसेंजर्स को स्वास्थ्य संबंधी अन्य सुविधाएं भी उपलब्ध रहेंगी. सूत्रों के मुताबिक ट्रेनों में डॉक्टर्स के लिए एसी कोच में दो बर्थ रिजर्व रहेंगी. इतना ही नहीं पैरा मैडिकल स्टॉफ भी डॉक्टर्स के साथ रहेगा. टीटीई जैसे ही डॉक्टर को किसी पैसेंजर के बीमार होने की सूचना देगा, वैसे ही वह डॉक्टर उसे तुरंत अटेंड करेगा. अगर मरीज चल सकता है तो टीटीई उसे डॉक्टर के पास तक लेकर जाएगा. इतना ही नहीं इमरजेंसी की स्थिति में इलेक्ट्रोकार्डियोग्राफी, ऑक्सीजन सिलेंडर, पल्स ऑक्सोमीटर जैसे अन्य जरूरी उपकरण भी ट्रेन में डॉक्टर्स के पास मौजूद रहेंगे. सूत्रों के मुताबिक इस संबंध में जल्द ही रेलवे बोर्ड से संबंधित सभी चिकित्सा अधिकारियों को निर्देश जारी किए जाएंगे. यह सर्विस सबसे पहले लांग रूट की ट्रेनों में उपलब्ध कराई जाएगी.

No comments:

Post a Comment