इतिहास बदलने को वोट डालेगा जापान

इतिहास बदलने को वोट डालेगा जापान



टोक्यो। टेक्नोलाजी के दम पर दुनिया भर में अपने नाम का डंका बजाने वाला जापान अब नई इबारत लिखने जा रहा है। इसकी शुरुआत रविवार को यहां हो रहे आम चुनाव से होगी। राष्ट्रीय असेंबली के लिए हो रहे इन चुनावों में जापान में लगभग आधी सदी तक राज करने वाली रूढि़वादी लिबरल डेमोक्रेटिक पार्टी [एलडीपी] का शासन खत्म होने के आसार व्यक्त किए जा रहे हैं। बीच की 10 माह की अवधि को छोड़कर वर्ष 1955 में अपनी स्थापना के समय से एलडीपी सत्ता में काबिज है। जापान के वर्तमान प्रधानमंत्री तारो असो इसी पार्टी से हैं।इस चुनाव में मतदाताओं का रुझान विपक्षी डेमोक्रेटिक पार्टी आफ जापान [डीपीजे] की तरफ दिख रहा है। जापान के अखबार योमिरी शिम्बुन के मुताबिक यह पार्टी निचले सदन की कुल 480 में से 300 सीटें जीतने में कामयाब रहेगी। अखबार ने 85 हजार मतदाताओं पर किए गए एक सर्वेक्षण के आधार पर यह निष्कर्ष निकाला है। जापान में कुल 10.4 करोड़ मतदाता हैं।डीपीजे के अध्यक्ष युकीओ हातोयामा ने एक रैली को संबोधित करते हुए कहा कि हम मेहनत कर रहे हैं ताकि भविष्य में जापान के लोग यह कह सकें कि इतिहास बदलने की शुरुआत इसी चुनाव से हुई। अमेरिका से इंजीनियरिंग की शिक्षा प्राप्त हातोयामा एक ऐसे राजनीतिक परिवार से संबंधित हैं जिसे जापान का केनेडी परिवार भी कहा जाता है।





यह सामग्री याहू.कॉम से ली गई है



====================================================================================
इतिहास बदलने को वोट डालेगा जापान इतिहास बदलने को वोट डालेगा जापान Reviewed by Brajmohan Saini on 1:05 AM Rating: 5

No comments:

Comment Me ;)

Powered by Blogger.